Connect with us

पॉलिटिक्स

लोकसभा चुनाव 2019- नरेंद्र मोदी की सरकार से देश की जनता हुई नाराज, 2 कारण इसलिए मोदी की 2019 में गिरने वाली है सरकार

लोकसभा चुनाव 2019

2019 में होने वाले लोकसभा चुनावों की तैयारियां भारत में जोर जोर से शुरू हो चुकी हैं. आपको बता दें कि यह लोकसभा चुनाव निश्चित रूप से कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी दोनों के लिए काफी महत्वपूर्ण होने वाले हैं. कांग्रेस पार्टी चाहती है कि वह एक बार फिर से सत्ता में वापसी करें और 5 साल बाद केंद्र में अपनी सरकार बनाकर फिर से एक बार काम करना शुरू कर दे.

तो वहीं बीजेपी की सरकार भी यही चाहती होगी कि इस बार चुनाव में उसकी वापसी हो और जो सपने अधूरे रह गए हैं उनको पूरा करना भी शुरू करें लेकिन भारतीय जनता पार्टी और नरेंद्र मोदी सरकार के लिए इस बार 2019 के लोकसभा चुनाव सामान्य और आसान नहीं होने वाले हैं.

लोकसभा चुनाव 2019

जनता को जिस तरीके के सपने दिखाए गए थे वह पूरे होते हुए नहीं दिख रहे हैं और यही कारण है कि अब जनता कहीं ना कहीं नरेंद्र मोदी से भी नाराज नजर आ रही है. तो आइए आपको बताते हैं कि वह कौन सी दो चीजें हैं जिसकी वजह से नरेंद्र मोदी की सरकार इस बार 2019 के लोकसभा चुनावों से गिरती हुई नजर आ सकती है-

लोकसभा चुनाव 2019

पेट्रोल के दाम बढ़ें हैं 

पेट्रोल के दाम जिस तरीके से भारत में बढ़ रहे हैं तो उससे भारत की जनता नरेंद्र मोदी की सरकार से काफी नाराज है. एक समय स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेई फिर से सरकार बनाते हुए नजर आ रहे थे तो उसी समय प्याज के दाम अचानक से बढ़ गए थे और वही प्याज के दाम भारतीय जनता पार्टी की सरकार को गिराने के लिए काफी रहे थे.

तो कहीं इस बार भी है पेट्रोल के बढ़ते हुए नाम नरेंद्र मोदी की सरकार को गिराने के लिए काफी ना हो जाएँ इस बात का डर निश्चित रूप से मोदी को भी बता रहा होगा लेकिन यह सरकार पेट्रोल के दामों के ऊपर लगाम लगाने में कुछ भी कार्यवाही करती हुई नजर नहीं आ रही है. पेट्रोल के दाम ₹90 के आसपास पहुंच चुके हैं और जनता की कमर इस पेट्रोल से अब टूटती हुई दिख रही है.

लोकसभा चुनाव 2019

नहीं लगा काले धन का खुलासा

दूसरी तरफ आपको बता दें कि नरेंद्र मोदी ने जब पिछली बार चुनाव लड़ने की तैयारी में थे तो उस समय काले धन को लेकर काफी बातें बोली थी लेकिन अभी तक 2019 का समय आ चुका है और कालेधन के खुलासे पर किसी भी तरीके का काम होता हुआ नजर नहीं आ रहा है.

यहां तक कि किन लोगों के स्विस बैंक में धन छुपा हुआ है यह भी खुलासा मोदी नहीं कर पाए हैं. तो जनता इन दोनों मुद्दों के कारण कहीं न कहीं नरेंद्र मोदी से नाराज है और वह 2019 के चुनावों में मोदी की सरकार गिराती हुई नजर आ सकती है.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in पॉलिटिक्स