Connect with us

एस्ट्रोलॉजी

2019 लोकसभा चुनाव की ज्योतिष भविष्यवाणी- नरेंद्र मोदी की कुंडली देख हुई भविष्यवाणी, मोदी के बुरे दिनों की हुई है शुरुआत

narendra modi kundali

2019 लोकसभा चुनाव की ज्योतिष भविष्यवाणी2019 के लोकसभा चुनाव आज का सबसे बड़ा मुद्दा है. जिसको लेकर हर कोई जोर-शोर से तैयारियां कर रहा है. यह तैयारियां इतने जोरो से चल रही है कि नेताओं के साथ-साथ आम आदमी भी लोकसभा के आने वाले चुनाव में रुचि ले रहे हैं जिसको लेकर हर किसी के जेहन में एक ही सवाल होता है कि कौन बनेगा भारत का अगला प्रधानमंत्री. नरेंद्र मोदी की कुंडली का आंकलन शुरू हो चुका है. 

लोकसभा चुनाव 2019 कब है, तो आपको बता दें कि साल 2019 में मई के आसपास यह चुनाव होते हुए नजर आ सकते हैं. यही सबसे बड़ा सवाल है कि आखिर 2019 में भारत देश का प्रधानमंत्री कौन बनेगा? आपको बता दें इसके विषय में कई मत और विचार सामने आ चुके हैं. पंडित भी ज्योतिष विद्या की मदद से आने वाले चुनाव के प्रधानमंत्री का एजेंडा बता रहे हैं. पंडित बता रहे हैं कि कुंडली का योग आखिर कैसा है जिसकी जितनी अच्छी कुंडली उसके अच्छे दिन.

नरेंद्र मोदी ज्योतिषीय भविष्यवाणी 2019 | 2019 लोकसभा चुनाव की ज्योतिष भविष्यवाणी

 

नरेंद्र मोदी की कुंडली

जनता के अच्छे दिन आए ना आए लेकिन भविष्यवाणी ने साफ कर दिया कि आखिर अच्छे दिन किसके आएंगे और कौन प्रधानमंत्री बनेगा चलिए अब अब आपको बता दें की भविष्यवाणी किससे के  बारे में की गई.

ज्योतिषाचार्य पंडित जिसमें आने वाले लोकसभा की पोल खोल कर रख दी. जाने माने पंडितों ने पीएम मोदी की कुंडली और उस पर आने वाले संकट का खुलकर खुलासा किया.

17 सितंबर 1950 को दोपहर 12:09 पर गुजरात में जन्मे प्रधानमंत्री मोदी की जन्म कुंडली लग्न और वृषभ राशि के चंद्रमा से प्रभावित हैं. उन्होंने बताया कि मोदी की कुंडली में बन रहा चंद्र योग का नीच योग इनको जनता का प्रेमी तो बनाए रखेगा लेकिन दूसरी और मंगल के शत्रु भाव का स्वामी उन्हें जनता का विरोधी भी बना रहा है. इस साल 2019 की कुंडली बताती है कि इन्हें अगले 1 साल में अपने राजनीतिक जीवन में सबसे ज्यादा कठिनाइयों का सामना करना पड़ेगा. क्योंकि शुक्र की विशोंत्तरी की दशा पीएम मोदी पर 2018 से 2020 तक रहेगी. इसी बीच 2019 के चुनाव पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है.

साथ ही आपको बता दें कि सप्तमेश शुक्र वर्गोत्तम होकर सत्ता स्थान यानी दशम भाव में है. जो कि उनको 2019 के आम चुनावों में वापस लाने का भी योग दिखा रहा है लेकिन साथ ही बताया गया है कि अंतर्दशा नाथ शुक्र के हानी भाव का स्वामी होने के कारण इनकी राजनीतिक जीवन में बदलाव के योग है. यह साल 2019 पीएम मोदी के लिए सबसे खराब साल है और इनके विरोधी भी इन पर हावी दिख रहे है. पीएम मोदी की कुंडली में कुछ ग्रह तो ऐसे हैं जो उनका साथ देंगे और इन्हें वापस सत्ता में लाने का पूरा प्रयास करेंगे.

 

नरेंद्र मोदी भारत देश के प्रधानमंत्री, पर आगे का सफर मुश्किल है

वृषभ लग्न की कुंडली के दशम भाव को देख रहे गुरु शनि और बुध इनको केंद्र की सत्ता दिलाने का संकेत दे रहे हैं.

इस भविष्यवाणी में मोदी से लेकर बीजेपी तक की कुंडली का बयान किया गया बीजेपी 1980 से सत्ता में आई और 2012 से सूर्य की महादशा आरंभ हुई .सूर्य की महादशा ने इन्हें 2014 का चुनाव जीतने के लिए योगदान दिया. ज्योतिषाचार्य का कहना है कि सूर्य की महादशा केवल 6 साल तक ही साथ देती है और वह 2017 में वो पूरी हो चुकी. जिसका फल भी बीजेपी को मिला लेकिन अब बीजेपी की कुंडली खतरे से खाली नहीं है. इनका समय बिल्कुल भी अच्छा नहीं चल रहा जिससे तमाम आरोप लग रहे हैं 10 साल के लिए बीजेपी को नुकसान झेलना पड़ सकता है.

अभी भी बीजेपी में केवल एक ही नेता है जो सत्ता दिला सकता है वह स्वयं पीएम मोदी है क्योंकि कहा गया है कि पीएम मोदी की कुंडली में 2019 के बाद केतु का अतर आ जाएगा. केतु इन का भाग्य पलट कर इन्हें सत्ता में ला सकता है. इस प्रकार 2019 तय कर देगी कि किस का भाग्य साथ देगा और किसे सत्ता मिलेगी. आपको क्या लगता है कि 2019 में प्रधानमंत्री कौन बनेगा कमेंट करके बताएं.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in एस्ट्रोलॉजी