About Us

डेमोक्रेटिक वायस ऑफ़ इंडिया जिसको आप भारत की लोकतांत्रिक आवाज़ बोल सकते हैं. लोकतंत्र को बेशक आप गूँगा समझ सकते हैं लेकिन लोकतंत्र कभी गूँगा नहीं होता है. लोकतंत्र की अपनी कोई आवाज़ तो नहीं होती है लेकिन जन सत्याग्रह की आवाज़ ही लोकतंत्र की आवाज़ होती है.

 

डेमोक्रेटिक वायस ऑफ़ इंडिया समाचार नहीं बल्कि विचार से ताल्लुक़ रखता है. किसी समाचार का जनता पर क्या असर होने वाला है, यह बताने का काम डेमोक्रेटिक वायस ऑफ़ इंडिया करेगा. लोकतंत्र की ऐसी आवाज़ जो जनता से सम्बन्ध रखती है और जो समाज को प्रभावित करती है उस आवाज़ को हम बुलंद करने काम करने वाले हैं.

 

आने वाले समय में जिस तरह से झूठी ख़बरों का बाज़ार सजने वाला है ऐसे समय में डेमोक्रेटिक वायस ऑफ़ इंडिया आपको हर ख़बर सबूतों के आधार पर देने वाला है. हम क़सम खाते हैं कि जब तक हमारे पास हर ख़बर का कोई सबूत नहीं होगा तब तक उस ख़बर को आप तक नहीं आने देंगे.

 

साथ ही साथ जिस आवाज़ को कोई नहीं सुनेगा उस आवाज़ को अगर कोई धैर्य से सुनेगा तो वह डेमोक्रेटिक वायस ऑफ़ इंडिया ही होगा. हमारा अगर कोई धर्म है तो वह इंसानियत का धर्म है. डेमोक्रेटिक वायस ऑफ़ इंडिया भारत देश के तिरेंगे को भगवा, सफ़ेद और हरे रंग में नहीं देखता है. डेमोक्रेटिक वायस ऑफ़ इंडिया के तिरेंगे को एकता और ताक़त के दम पर देखता है. आने वाले दिनों में इस ख़बर पोर्टल को देश का युवा वर्ग अपनी आवाज़ समझे, इसी तरफ़ काम करते रहना हमारा सबसे बड़ा उद्देश्य है.

 

Dvi News का उद्देश्य लोकतंत्र की उस आवाज़ को ताक़त देना है जो आवाज़ समाज में एक क्रांति पैदा कर सकती है. किसी जात-पात और धर्म का साथ देना हमारी नियत में बिलकुल नहीं है. हमारा उद्देश्य एक ही है बस सच को किसी भी हालत में समाज के आख़री व्यक्ति तक पहुँचा दिया जाए. 

 

 

हमारी कैटेगरी

 

गज भर जबान (Democratic-voice-of-india)

डेमोक्रेटिक वायस ऑफ़ इंडिया के इस सेक्शन के अंदर आप जनता, समाज या किसी भी वर्ग की उस आवाज़ को पढ़ पाएँगे जिसे कोई सुनना नहीं चाहता है. कई बार पैसों के दम पर यह आवाज़ दबा दी जाती है या कई बार ताक़त के दम पर इस आवाज़ को मार दिया जाता है लेकिन डेमोक्रेटिक वायस ऑफ़ इंडिया हर कमज़ोर आवाज़ में दम भरने का काम करेगा. देश की दिशा और दशा दोनों को बदलना ही गज भर ज़ुबान का मुख्य उद्देश्य है.

 

कुर्सी की लड़ाई (Politics)

डेमोक्रेटिक वायस ऑफ़ इंडिया में अगर राजनीति की बात ना हो तो यह बड़ी ही नाइंसाफ़ी होगी. वैसे कुर्सी की लड़ाई में हम राजनेताओं के उन दाँव पेचों को नज़दीक से समझ पाएँगे तो हमारे शरीफ़ नेता कुर्सी के लिए आज़माते हैं. कुर्सी के लिए कौन कितना गिर रहा है और किसकी लड़ाई अभी तक सच्ची है यह सब आप हमारे इस कालम में हर रोज़ पढ़ पाएँगे. राजनीति का बड़ा अच्छा और मज़ेदार इतिहास भी आप यहाँ पढ़कर अपना ज्ञान बढ़ा सकते हैं.

 

भला-बुरा और विशेष (Specials)

डेमोक्रेटिक वायस ऑफ़ इंडिया, सही और ग़लत को पहचानने में कोई भी ग़लती नहीं करने वाला है. सच को सामने लाने के लिए हम साम-दाम-दंड और भेद सभी तरह के प्रयोगों को आज़माएँगे. इस कैटेगरी में आप भारतीय इतिहास के उस रूप को तथ्यों के आधार पर पढ़ पाएँगे जो आज हमारे सामने से नदारद है. किसी को कड़वा पढ़ने की आदत ना हो तो वह इस कैटेगरी से दूर ही रहे. मुग़लों से लेकर ग़ुलामी तक, सभी बातें जो कड़वी होंगी, वह आप यहाँ सबूतों के आधार पर पढ़ सकते हैं.

 

गरमा-गर्म (Breaking-news)

आप आसान भाषा के अंदर इस जगह ब्रेकिंग विचार और ख़बर दोनों को पढ़ पाएँगे. आज दिनभर जो हुआ है और जिस ख़बर का जनता से गहरा सम्बन्ध है उसको डेमोक्रेटिक वायस ऑफ़ इंडिया के लेखक यहाँ आपको बताएँगे. शुरुआत में आपको इस जगह की भाषा को पढ़कर थोड़ी समस्या उत्पन्न हो सकती है क्योंकि हम हरामी को हरामी ही लिखने वाले हैं.

 

चुनावी सभा (Election)

भारत के अंदर चुनाव एक उत्सव होता है जो साल भर कहीं ना कहीं लगातार जारी रहता है. चुनाव में आपका प्रत्यासी कितना पानी में है और आपके नेता के ख़ून में कितनी क्रांति है, यह सब बातें आपको डेमोक्रेटिक वायस ऑफ़ इंडिया के इस सेक्शन में पढ़ने को मिलने वाली हैं. आपको चुनावी सभा में हम कई शानदार राजनैतिक लोगों के विचार भी पढ़ने को मिलने वाले हैं.

 

टेक और विज्ञान (Tec&auto)

विज्ञान के अंदर हो रहे आविष्कार और हर रोज़ बाज़ार में आ रहे नए टेक उत्पादों के बारें में यहाँ पढ़ने को मिलेगा. कोई भी टेक उत्पाद ख़रीदने से पहले आप हमारे एक्सपर्ट से सवाल भी पूछ पाएँगे.

 

अपराध (Crime)

अपराध आदमी तब करता है जब उसको उनका अंजाम मालूम नहीं होता है. अपराध में हम आपके सामने कुछ ऐसी आपराधिक कहानियाँ सामने लाएँगे जिनको पढ़कर आपका ख़ून ठंडा हो जाएगा. इंसान का ख़ून अगर गरम है तभी वह अपराध करता है. डेमोक्रेटिक वायस ऑफ़ इंडिया के इस सेक्शन में आपको इतिहास के कुछ ऐसे दृश्यों को देखने का मौक़ा मिलेगा, जो सालों से मोटी-मोटी किताबों में दर्ज हैं.

 

तो डेमोक्रेटिक वायस ऑफ़ इंडिया मुख्य उद्देश्य लीक से हटकर ऐसी जानकारी आपको देना है जो आपका समय बर्बाद ना करें. हमारा सबसे बड़ा ध्यान अभी झूठी ख़बरों को अपने पाठकों तक आने से बचाना है. हम फिर कहते हैं कि हमारी हर बात सच होगी और सबूत के साथ बोली जाएगी.

 

डेमोक्रेटिक वायस ऑफ़ इंडिया क़सम खाता है कि वह जो बोलेगा सच बोलेगा और सच के सिवाय कुछ नहीं बोलेगा.