हिन्दुओं की आवाज़ प्रवीण तोगड़िया की हुई मोदी से सरेआम लड़ाई, अनशन पर बैठकर हिन्दुओं के सामने मोदी की खोलेंगे पोल

Praveen Togadia resign

Praveen Togadia resign- विश्व हिंदू परिषद के कभी अध्यक्ष रहे प्रवीण तोगड़िया इन दिनों बीजेपी से काफी खफा हो चुके हैं. अपने आप को हिंदुओं की आवाज कहने वाले प्रवीण तोगड़िया बीजेपी और देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इतने खफा हैं कि उन्होंने पार्टी और प्रधानमंत्री के खिलाफ आवाज उठाने के लिए अब 17 अप्रैल से अनशन का तरीका ठान लिया है.

आपको इससे पहले बता दें कि विश्व हिंदू परिषद में हुए चुनाव के अंदर प्रवीण तोगड़िया ग्रुप की हार हुई है और हिमाचल के पूर्व राज्यपाल वीएस कोकजे (विष्णु सदाशिव कोकजे) को किसी को भी विश्व हिन्दू परिषद का नया अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया गया है. Praveen Togadia resign

Praveen Togadia resign

अपने ग्रुप की हुई हार से विश्व हिंदू परिषद के प्रवीण तोगड़िया इतने नाराज हुए हैं कि उन्होंने पार्टी से तो अलग होने की ठान ली है तो वहीं अब उन्होंने मोदी के खिलाफ भी जैसे मोर्चा खोल दिया है. प्रवीण तोगड़िया ने विश्व हिंदू परिषद से इस्तीफा दे दिया है.

Praveen Togadia resign

तोगड़िया ने कहा, ”भारत में हिंदुओं के रामराज की स्थापना, किसानों की कर्जामुक्ति, सस्ती गुणवत्ता युक्त शिक्षा, सभी युवाओं को रोजगार, महिला सुरक्षा, सीमा सुरक्षा, छूआछूत मुक्त भारत, मजदूरों के हितों की रक्षा, सभी के लिए उत्तम स्वास्थ्य सेवा जैसे मुद्दे पर सभी पर कार्यकर्ता निष्ठा से जुट जाएंगे. सभी हिंदुओं से निवेदन है कि अब सुरक्षित हिंदू समृद्ध की ओर बढ़ें.’’ उन्होंने कहा कि कलियुग में कुछ लोगों ने स्वार्थ में विचारधारा की बलि चढ़ाई है.

Praveen Togadia resign

निश्चित रूप से अब प्रवीण तोगड़िया भारतीय जनता पार्टी और उसके कुछ खास नेताओं से नाराज नजर आ रहे हैं. इससे पहले भी प्रवीण तोगड़िया मीडिया के सामने कह चुके हैं कि उनकी जान को बीजेपी के कुछ खास लोगों से खतरा है.

Praveen Togadia resign

बीते दिनों भी प्रवीण तोगड़िया एक तरीके से गायब हो गए थे और पुलिस से बचते हुए नजर आ रहे थे. अब वही प्रवीण तोगड़िया विश्व हिंदू परिषद से अपना नाता तोड़ चुके हैं और जनता के बीच में पहुंच चुके हैं अभी तक जो प्रवीण तोगड़िया हिंदुओं के लिए काम करता हुआ नजर आ रहा था. वही प्रवीण तोगड़िया हिंदुओं के बीच में पहुंचकर उनकी हमदर्दी को जुटाने का प्रयत्न करता हुआ नजर आएगा.

निश्चित रूप से प्रवीण तोगड़िया अनशन के दौरान ही भारतीय जनता पार्टी और नरेंद्र मोदी के खिलाफ प्रचार करते हुए नजर आने वाले हैं.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*