वहशी-दरिंदा, आधा दानव-आधा इंसान घूम रहा है सड़कों पर, लड़की देखते ही उसका गला काट देता है

वहशी-दरिंदा, आधा दानव-आधा इंसान

वहशी-दरिंदा, आधा दानव-आधा इंसान- इन दुनिया में कई तरह के लोग मौजूद हैं. खुद ईश्वर भी कुछ लोगों की हरकत देखकर हैरान हो जाता होगा. आज हम आपको एक ऐसे ही दरिंदा की कहानी बताते हैं जो आधा दानव है और आधा इन्सान है. इंसान वह खुद को कभी बोलता नहीं, वह इतना ईमानदार था कि अख़बार में एक खत लिखकर भेजता है कि मैं दानव हूँ और लगातार हत्यायें कर रहा हूँ.

तो आइये आज हम आपको साल 1988 के उस हत्यारे की कहानी सुनाते हैं जो सड़क पर काम की तलाश कर रही वैश्याओं का क़त्ल बड़ी क्रूरता से कर रहा था. इस हत्यारे को आज तक नहीं पकड़ा गया है आज 29 साल बाद भी यह हत्यारा पकड़ा नहीं गया है. तो आइये आपको आज हम उस हत्यारे की कहानी सुनाते हैं-वहशी-दरिंदा, आधा दानव-आधा इंसान

वहशी-दरिंदा, आधा दानव-आधा इंसान

साल 1988 ‘द स्टार’ नाम के अखबार में एक खबर छपती है. इस खबर के बाद लन्दन का पूर्वी इलाका काफी अशांत हो जाता है. लोग घरों से बाहर निकलना बंद कर देते है. इस खबर का टाइटल कुछ ऐसा था- सावधान- वहशी-दरिंदा, आधा दानव-आधा इंसान घूम रहा है सड़कों पर, लड़की देखते ही उसका गला काट देता है. इस खबर के बाद

वहशी-दरिंदा, आधा दानव-आधा इंसान

लोग शाम 6 बजे से पहले से घर आने लग गये थे. शहर की पुलिस लगातार उस दरिन्दे को खोज रही थी जो सड़क पर वेश्याओं के गले पर तेज चाक़ू से वार करके उनकी हत्या कर रहा था.

इस हत्यारे को नाम दिया गया जेक द रिपर, जेक ने अपनी पहली हत्या अगस्त 1988 में की थी. पहले खत्म में उसने बताया कि वह एक वैश्या का कत्ल कर चुका है जिसका नाम निकोलस था. खत पर सभी को यकीन तब हुआ जब निकोलस की लाश बुरी हालत में मिली. निकोलस वैश्या थी.

वहशी-दरिंदा, आधा दानव-आधा इंसान

इसके बाद जैक द रिपर सितम्बर में वापिस आया और उसने फिर से एक बेगुनाह वैश्या की हत्या गले पर तेज चाकू चलाकर कर दी. यहाँ से रेपर लगातार हत्या करता रहा और रात 1 बजे वह जानवर सड़कों पर होता था. कहते हैं कि उसके चेहरे पर चमड़े का मास्क होता था.

रेपर को पुलिस खोज नहीं पा रही थी. अचानक से ही 11 हत्या के बाद वह रुका लेकिन तब तक लन्दन में इस हत्यारे का डर घर-घर में हो गया था. आज भी 29 साल बाद इस हत्यारे को पुलिस खोज नहीं पाई. ना तो वह मरा क्योकि मरा होता तो लाश मिलती. कोई नहीं जान पाया कि वह वहशी-दरिंदा, आधा दानव-आधा इंसान आखिर कौन था.

इस हत्यारे को कहानियों में नाम दिया गया जेक द रिपर. आज भी यह रहस्य बना हुआ है कि आखिर वह 11 हत्याएँ किसने की थी. आप इस हत्यारे के बारें में कुछ और जानते हों तो हमें कमेन्ट करके जरुर बतायें. आपके जवाबों का हमको इन्तजार रहेगा.

 

यह भी जरुर पढ़ें- इन 10 तस्वीरों से साबित होगा कि मोदी ने जीत लिया है मुसलमानों का दिल, कमजोर दिल वाले ना देखें तस्वीरें

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*