भगवान की मूर्ति चोरी करके चोर ले गया था, रात को मूर्ति ने किया कुछ ऐसा चमत्कार कि सुबह चोर मूर्ति लेकर मंदिर आ गया

Lord Adinath Bawangaja

Lord Adinath Bawangaja– भगवान भी कई बार ऐसे ऐसे खेल खेलता है कि इसको देखकर अच्छे से अच्छे बिगड़े व्यक्ति की अकल ठिकाने आ जाती है. ऐसा ही एक केस ग्वालियर शहर से सामने आ रहा है.

एक चोर ने भगवान श्री दिगंबर जैन मंदिर से आदिनाथ भगवान की सोने की मूर्ति मंदिर से बड़ी ही सफाई से चोरी की. श्री दिगंबर जैन मंदिर से चोरी की गई भगवान आदिनाथ की मूर्ति को लेकर अगले ही दिन चोर मंदिर पर आ गया.

और यह मूर्ति उसने मंदिर के हवाले कर दी. चोर ने मंदिर आने पर जो बताया उसको सुनकर सभी के पैरों से जमीन निकल गई. आइए आपको बताते हैं कि आखिर क्यों जो चोर भगवान आदिनाथ की मूर्ति चुरा कर ले गया था, आखिर क्यों वह अगले दिन यह मूर्ति मंदिर में लौटाने चला आया-

Lord Adinath Bawangaja

खबरों के अनुसार भगवान आदिनाथ की मूर्ति 5 और 6 जून की रात को मंदिर से चोरी हुई थी. 8 इंच की है मूर्ति अष्टधातु की बनी हुई है.

Lord Adinath Bawangaja

इसका पता अगले दिन चला जब 6 जून की सुबह एक पुजारी ने मंदिर का गेट खोला तो यह मूर्ति मंदिर में नहीं मिली. मूर्ति की चोरी की खबर लिखवाई जा चुकी थी,

Lord Adinath Bawangaja

लेकिन 7 जून को मंदिर के चौकीदार ने जब मंदिर का गेट खोला तो यह मूर्ति फिर से एक बार मंदिर में ही रखी हुई मिली.

Lord Adinath Bawangaja

कुछ सूत्रों का कहना है कि इस मूर्ति को चुराने के बाद चोर को रात के समय नींद नहीं आई, उसको मूर्ति चुराने का पश्चाताप लगातार हो रहा था.

शायद यह चोर नेकदिल का था इसलिए इसको भगवान की मूर्ति चुराने का दुख हो रहा था. उसको ऐसा लग रहा था कि अब मंदिर में चोरी करने के बाद उसका जीवन बहुत बुरा हो जाएगा. इसलिए वह मंदिर पर आकर अगले दिन मूर्ति रख कर चला गया.

वहीं कुछ जानकारों का यह भी कहना है कि भगवान आदिनाथ सदा से इस मूर्ति के द्वारा चमत्कार दिखाते हुए नजर आए हैं. यह मूर्ति मंदिर में काफी चमत्कारी मूर्ति बोली गई है. इस मूर्ति ने निश्चित रूप से रात को चोर के साथ कुछ ना कुछ अजीब और चमत्कार किया होगा, इसी कारण से या मूर्ति अगले दिन वापस मंदिर में चली आई है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*