BJP के इन 6 नेताओं की मोदी ने काटी टिकट, हार के डर से यह नहीं लड़ेंगे 2019 का लोकसभा चुनाव

इन 6 नेताओं की मोदी ने काटी टिकट
इन 6 नेताओं की मोदी ने काटी टिकट- 2019 की इलेक्शन की तैयारियां जोरों-शोरों से चल रही हैं. ऐसे में सभी पार्टियां अपनी हर तैयारियां कर रही हैं. सत्ता में मौजूद भारतीय जनता पार्टी दोबारा सत्ता में आने की  कोशिश में जुटी है. वहीं कांग्रेस अपनी सीटों में बढ़ोतरी करना चाहती है.
नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी आगे बढ़ रही है, इसलिए मोदी नहीं चाहेंगे कि किसी भी कारणवश बीजेपी पीछे रह जाए. उनकी पार्टी के तमाम लोग उनका साथ दे रहे हैं लेकिन फिर भी मोदी अपनी ही पार्टी के कुछ नेताओं को टिकट देना नहीं  चाहते हैं. आइए जानते हैं कि वह कौन लोकसभा सदस्य हैं जिनको इस बार टिकट शायद नहीं मिले-
इन 6 नेताओं की मोदी ने काटी टिकट
उमा भारती
उमा भारती जल संसाधन, नदी विकास एवं गंगा सफाई की मंत्री हैं. वह मध्य प्रदेश की मुख्यमंत्री रह चुकी हैं. उमा भारती युवावस्था में ही के बीजेपी के साथ जुड़ गई थी.  राम भूमि आंदोलन के लिए उमा जी ने साध्वी ऋतंभरा के साथ मुख्य भूमिका निभाई थी.वाजपेयी सरकार में वह मानव संसाधन विकास, पर्यटन, युवा मामले एवं खेल और अंत में कोयला और खदान जैसे विभिन्न राज्य स्तरीय और कैबिनेट स्तर के विभागों में भी काम किया. अब वह चुनाव शायद ख ही नहीं लड़ने वाली हैं.
इन 6 नेताओं की मोदी ने काटी टिकट
मनोहर जोशी
मुरली मनोहर जोशी युवावस्‍था में राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक साथ  जुड़ गए और गौ रक्षा संबंधी आंदोलनों में हिस्सा लिया.
जोशी जी ने 1980 में भारतीय जनता पार्टी की स्‍थापना की और इसके अध्‍यक्ष बनें.15वीं लोकसभा में वाराणसी से इन्‍होंने बीजेपी उम्‍मीदवार के रूप में जीत हासिल किया. जब भारतीय जनता पार्टी की सरकार 13 दिनों के लिए बनी, उस दौरान जोशी जी ने गृह मंत्री का पद भी संभाला. जोशी जी को शायद इस बात टिकट नहीं मिलने वाला है.
इन 6 नेताओं की मोदी ने काटी टिकट
एल के आडवाणी
लाल कृष्ण आडवाणी भारतीय राजनीति में किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं. भारतीय जनता पार्टी का वह जाना माना चेहरा हैं. देखा जाए तो भारतीय जनता पार्टी की नींव उन्होंने ही रखी थी. 1986 में एल के आडवाणी भारतीय जनता पार्टी का अध्यक्ष के तौर पर नियुक्त हुए. आडवाणी ने आक्रामक हिंदुत्व नीति अपनाकर बीजेपी को नयी दिशा दी. जिससे धीरे-धीरे बीजेपी ने लोगों के बीच जगह बना ली. इस बार शायद यह भी चुनाव ना लड़ें.
इन 6 नेताओं की मोदी ने काटी टिकट
सुषमा स्वराज
सुषमा स्वराज भारत की विदेश मंत्री हैं. वह दिल्ली की पहली महिला मुख्यमंत्री रह चुकी हैं. यहां तक की सुषमा स्वराज ने फिल्म निर्माण को उद्योग का दर्जा दिया जिससे काफी लोग प्रभावित भी हुए. इन्होंने अपने कार्यकाल के दौरान बहुत सी प्रगति की और अपना हर योगदान दिया. जिसका परिणाम यह है कि आज भारतीय जनता पार्टी ऊंचे स्तर में खड़ा है. अब शयद स्वास्थ्य के चलते सुषमा जी चुनाव ना लड़ें.
इन 6 नेताओं की मोदी ने काटी टिकट
जगदंबिका पाल
जगदंबिका पाल को राजनीति में मजे हुए खिलाडी कहा जाता है. इनहे लोग वन डे वंडर्स ऑफ पॉलिटिक्स के नाम से भी जानते हैं. इन्होने एक दिन में बहुत से क्षेत्रीय बदलाव किए जिससे लोगों को काफी राहत हुई. इन्होंने अपनी उपलब्धियों के साथ साथ सरकार की क‌ई उपलब्धियों का भी प्रचार प्रसार किया. इस बार शायद इनको टिकट नहीं मिलें.
इन 6 नेताओं की मोदी ने काटी टिकट
केशव प्रसाद मौर्य
केशव प्रसाद मौर्य उप मुख्यमंत्री है. वह उत्तर प्रदेश के ओबीसी समुदाय पर मजबूत पकड़ रखते हैं.जबकी विश्व हिन्दू परिषद, बजरंग दल और भाजपा में करीब 18 साल तक प्रचारक रहे हैं.साथ ही श्रीराम जन्म भूमि और गोरक्षा और हिन्दू हित के लिए इन्होंने आन्दोलन भी किया जिसके वजह से इन्हें जेल भी हुई. अब उत्तर प्रदेश में काम करने की वजह से शायद इनको भी टिकट नहीं मिल पाए.
इतनी कड़ी मेहनत और परिश्रम के बाद भी इन नेताओं को मोदी जी टिकट नहीं देने वाले हैं. असल में बीजेपी को अब इस बार अपनी हार का डर सताने लगा है. इसलिए टिकट वितरण में सावधानी बरती जाएगी. (जया कुमारी, डेमोक्रेटिक वोइस ऑफ इण्डिया)

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*