ड्रग्स के काले कारोबार पर दाऊद इब्राहिम का सनसनीखेज खुलासा, पढ़कर पैरों के नीचे से जमीन निकल जाएगी

दाऊद इब्राहिम

दाऊद इब्राहिम, इस नाम को कौन नहीं जानता होगा. मुंबई में हुए बम धमाकों के बाद से ही भारत की पुलिस और ख़ुफ़िया एजेंसी  दाऊद इब्राहिम को पागलों की तरह से खोज रही हैं. हालाँकि  दाऊद इब्राहिम कभी भी डरपोक नहीं रहा है. उसने जब चाहा अपनी बात मीडिया से द्वारा सामने रखी है.

आने वाले दिनों में हम आपको  दाऊद इब्राहिम से जुड़ी हुई कई सारी कहानियाँ एक क्रम से सुनाने वाले हैं. इसलिए आने वाले समय में आप हमसे जजुड़े रहिए ताकि आपको  दाऊद इब्राहिम की कहानी उसी की जुबानी और सही सोर्सेज से मिलती रहे. साथ ही साथ आपको बता दें कि हम  दाऊद इब्राहिम की जो भी कहानी आपको बतायेंगे वह किताबों से ली गयी हैं लेकिन कॉपीपेस्ट बिलकुल नहीं हैं. दाऊद इब्राहिम-

महाभारत के युद्ध में मारे गये सैनिकों के शव के साथ हुआ था बहुत गन्दा काम, अंतिम दर्शन को तरस गये थे सैनिकों के परिजन

दाऊद इब्राहिम

दाऊद इब्राहिम ने बोला मैं ड्रग्स का काम नहीं करता हुआ 

एक बड़े सीनियर पत्रकार की किताब के लिए  दाऊद इब्राहिम ने अपना इंटरव्यू दिया है. यहाँ पत्रकार दाऊद इब्राहिम से पूछता है कि आप भारत और खासकर मुंबई में ड्रग्स का काम करते हैं इसके आपका क्या बोलना है. तब  दाऊद इब्राहिम ने बड़ी भारी और गंभीर आवाज में जवाब दिया था कि

दाऊद इब्राहिम पत्रकार एस हुसैन जैदी से बोलता है कि आपकी मैं इज्जत करता था इसलिए इस सवाल के लिए आपको माफ कर रहा हूँ. लेकिन सच ये है कि  दाऊद इब्राहिम ने कभी ड्रग्स का काम नहीं किया है. इस ड्रग्स नाम से मैं नफरत करता हूँ.

Dawood Ibrahim

अगर कोई आदमी ड्रग्स का कारोबार करता है तो उससे मेरा कोई लेना देना नहीं है. ड्रग्स का मैं कभी कारोबारी नहीं रहा हूँ.

दाऊद इब्राहिम

तो क्या दाऊद इब्राहिम का नाम हुआ है इस्तेमाल 

तो अगर  दाऊद इब्राहिम अपने इंटरव्यू में यह बात बोल रहा है कि मैं ड्रग्स का काम नहीं करता हूँ तो हो सकता है कि वाकई में  दाऊद ने यह कम  किया हो. बल्कि ड्रग्स का भारत में कारोबार शायद किसी और ने किया हो.

गुजरात चुनाव परिणामों से ‘RSS’ संघ को आया गुस्सा, अमित शाह समेत इन 2 नेताओं का छीनने वाले है पद

वैसे मीडिया हमेशा यही लिखा है भारत में नशे और हथियार का मुख्य कारोबारी यही इब्राहीम ही था. ड्रग्स भारत में अगर कोई व्यापार करने के लिए कोई लाया था तो उसका नाम  दाऊद इब्राहिम था.

दाऊद इब्राहिम

लेकिन खुद  दाऊद इब्राहिम ने बोला है कि उसका कभी भी ड्रग्स एक कारोबार के कारोबार से कोई भी लेना देना नहीं रहा है. वह ऐसा व्यक्ति नहीं है कि अपने सुख के लिए लोगों को ज़हर देने का काम करे.

तो  दाऊद इब्राहिम के इस ब्यान को पढ़कर आपको भी लगता है कि  दाऊद इब्राहिम सत्य बोल रहा होगा? क्या वाकई भारत में ड्रग्स के काम में दुसरे लोगों ने  दाऊद इब्राहिम का इस्तेमाल किया है? क्या राजनैतिक लोगों ने  दाऊद इब्राहिम के नाम का इस्तेमाल किया होगा. आपके जवाबों का हमको इन्तजार रहेगा.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*