लखनऊ शूटआउट : विवेक की बेटी से मिलकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बोली ऐसी बात कि फूट-फूटकर रोने लगी विवेक की पत्नी

lucknow shootout vivek case

lucknow shootout vivek case- लखनऊ उत्तर प्रदेश की राजधानी है वहां पर सुरक्षा व्यवस्था कितनी अच्छी होनी चाहिए, यह शायद हम सभी को भली-भांति पता है लेकिन जब पुलिस राज्य की जनता के लिए खतरा बनने लगे तो यह राज्य के मुख्यमंत्री के लिए अच्छे संकेत नहीं होते हैं.

जिस तरीके से लखनऊ में विवेक नाम के एक व्यक्ति को पुलिस ने बिना किसी बात के मार दिया है तो उसके बाद अब पुलिस के ऊपर उंगलियां उठना लाजमी हैं. विवेक लखनऊ राज्य का एक नागरिक था और हमेशा राज्य को टैक्स देता होगा लेकिन पुलिस ने ऐसे नागरिक को इस तरीके से मार दिया कि जैसे यह एक आतंकवादी हो.

lucknow shootout vivek case

देश का कानून मजबूर है और यह पुलिस वाला इस समय अच्छे से जेल में जिंदा बैठा हुआ है. इस पुलिस वाले को एक बार को भी डर नहीं लगा कि अगर किसी को भी गोली मार दूंगा तो मुझे कानून सजा दे सकता है लेकिन शायद ताकत और वर्दी के दम पर इस पुलिस वाले ने विवेक को जान से मार दिया और एक परिवार को चलाने वाले व्यक्ति को हमेशा के लिए दुनिया से खत्म कर दिया।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की पत्नी और बच्चों से मिले और उन्होंने कुछ ऐसा बोला कि मुख्यमंत्री के सामने पत्नी रोने लगी. आइये आपको बताते हैं कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सामने क्यों पत्नी रोने लगी थी-

lucknow shootout vivek case

मुख्यमंत्री जी की आवाज सुन रोने लगी पत्नी

दरअसल यह एक अच्छी बात है कि राज्य के मुख्यमंत्री इस पूरे प्रकरण पर कठोर कार्रवाई करते हुए नजर आ रहे हैं. मुख्यमंत्री चाहते हैं कि इस पूरे कांड के पीछे का सच सामने आ सके और जल्द से जल्द गुनहगारों को कठोर से कठोर सजा मिले।

lucknow shootout vivek case

पुलिस के सिपाही को बर्खास्त कर दिया गया है और यह इस समय सलाखों में है. इस सिपाही का कहना है कि उसने जो किया में अपनी सुरक्षा के लिए किया था लेकिन अपनी सुरक्षा के लिए इस तरीके से एक परिवार से पिता को छीन लेना और एक बीवी से उसके पति को छीन लेना निश्चित रूप से बहुत बड़ा गुनाह बोला जाएगा।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ विवेक के बच्चों से मिले और उनको अच्छी पढ़ाई करने के लिए प्रेरित किया। साथ ही साथ जब विवेक ने यह बोला कि वह उनके पिता के हत्यारों को कठोर से कठोर सजा दिलाएंगे तो यह सुनकर विवेक की पत्नी रोने लगी क्योंकि वह चाहती है कि विवेक हत्यारे को सजा-ए-मौत हो और फांसी दी जाए.

देखना होगा कि किस भारत देश का कानून कितनी जल्दी इस पूरे मामले पर फैसला सुनाता हुआ नजर आएगा लेकिन देवी की पत्नी लगातार मुख्यमंत्री जी के सामने रोती रही.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*