इसी महीने सलमान खान फिर जायेंगे जेल में, बिश्नोई समाज ने खाई सलमान खान को फिर से जेल भेजने की अनोखी कसम

Salman khan

Salman khan- सलमान खान को काले हिरण केस में 5 साल की सजा जोधपुर अदालत ने सुनाई थी. लेकिन सलमान खान सजा के 2 दिन बाद भी जेल से जमानत पर रिहा होकर अपने घर मुंबई जा चुके हैं और आराम से अपने बाकी के काम करते हुए दिख रहे हैं.

सलमान खान जिस तरीके से जेल से जमानत पर रिहा होकर अपने घर गए थे तो ऐसा लगा कि वह वाकई देश के लिए सीमा पर लड़कर वापिस आये हैं. Salman khan

Salman khan

देखने वालों को ऐसा लग रहा था कि न जाने कितना बड़ा काम करके सलमान मुंबई लौटे हैं. मुंबई लौटने पर उन्होंने फैंस को नाराज नहीं किया और घर की बालकनी से कुछ ऐसे हाथ हिलाया कि जैसे वह भारत को ऑस्कर दिलाकर लौटे हैं.

Salman khan

लेकिन आपको बता दें कि सलमान खान को जिस तरीके से जोधपुर अदालत ने सजा दी है तो उसके उसको देखने के बाद सलमान खान को एक मुजरिम ही बोला जाएगा. आपको बता दें कि अभी ऐसा नहीं है कि सलमान खान को फिर से वापस जेल में नहीं जाना पड़ सकता है. इस तरीके की खबर सूत्रों से आ रही है कि बिश्नोई समाज बार फिर से अपनी पूरी ताकत के साथ उच्च न्यायालय में सलमान खान की जमानत को रद्द कराने के लिए अर्जी देने की तैयारी कर रहा है.

Salman khan

अगर उच्चतम न्यायालय सलमान खान की जमानत को कैंसिल कर देता है तो एक बार फिर से सलमान खान जोधपुर की जेल में जेल की रोटी और हवा खाते हुए नजर आ सकते हैं.

Salman khan

बिश्नोई समाज इस बार कसम खा रहा है कि वह सलमान खान को ज्यादा दिनों के लिए जेल भिजवा कर ही दम लेंगे. कुछ ऐसी ही तैयार ही बिश्नोई समाज के वकील भी कर रहे हैं.

निश्चित रूप से अगर उच्चतम न्यायालय सलमान खान की जमानत अर्जी को रद्द करता है तो सलमान खान जोधपुर की जेल में काफी दिन रहते हुए नजर आ सकते हैं.

लेकिन अच्छी बात यह है कि सलमान खान ने काले हिरण केस के अंदर कभी भी कोर्ट की तारीख को नजरअंदाज नहीं किया है यही बात सलमान खान के हक में जाती हुई दिख रही है.

यही कारण है कि सलमान खान को जेल से रिहा कर दिया गया है. लेकिन आपको बता दें कि इस भारत में जहां एक तरफ बेगुनाह लोग सालों तक जेल में जमानत की अर्जी डाले हुए रहते हैं तो वहीं सलमान खान अपने नाम और ताकत के दम पर जेल से रिहा होकर मुंबई अपने घर पहुंच चुके हैं.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*