Connect with us

वैज्ञानिकों को मिले पक्के सबूत, धरती होने वाली है खत्म और दुनिया से इंसान का खत्म हो जायेगा नामोनिशान

End of Earth

End of Earth– निश्चित रूप से आपने इस तरीके की सूचनाएं यह खबर कई बार पढ़ी होंगी कि जिसमें यह बोला गया होगा कि धरती खत्म होने वाली है. आप अब इस तरीके की खबरों को झूठा समझकर नजरअंदाज करने लगे होंगे लेकिन आज हम आपको एक ऐसा सच बताने वाले हैं कि जिसको आप नजरअंदाज नहीं कर सकते हैं.

अपने आसपास अगर आप भी इन सबूतों को खोजेंगे तो आपको निश्चित रूप से यह पक्के सबूत मिल जाएंगे जिनको देखने के बाद आप भी बोलेंगे कि हां वाकई दुनिया खत्म होने वाली है. तो आइए आपको बताते हैं कि वैज्ञानिक किस आधार पर अब यह बोल रहे हैं कि पृथ्वी खत्म होने की ओर बढ़ रही है-

End of Earth

पानी की कमी से दुनिया हो रही है खत्म

इस पृथ्वी पर जो सबसे बड़ी समस्या बनी हुई है वह सबसे बड़ी समस्या पानी की कमी हो गई है. आप बेशक भारत में रहते हो या फिर यूरोप में रहते हो या अफ्रीका के देशों में रहते हो लेकिन हर जगह इन दिनों पानी को लेकर बड़ी भयंकर समस्या बनी हुई है. भारत में हिमाचल, राजस्थान, मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश के कई जिलों में पानी की इस समय भारी समस्या बनी हुई है.

End of Earth

महाराष्ट्र में तो यह समस्या कुछ ऐसी है कि अब इंसान और जानवर दम तोड़ने लगे हैं. यही कारण है कि लगातार अब वैज्ञानिक ने दावा कर रहे हैं कि जिस तरीके से पृथ्वी पर पानी की कमी लगातार होती जा रही है, उसको देखकर बोला जा रहा है कि धरती खत्म हो रही है.

End of Earth

इस समय पानी की कमी अब उन क्षेत्रों में भी होने लगी है जहां पर आज से पहले कभी भी पानी की समस्या होती ही नहीं थी वैज्ञानिक पानी की समस्या को एक बहुत बड़ी समस्या मानकर चल रहे हैं और उनका अनुमान है कि अगर पृथ्वी से जल खत्म हुआ तो निश्चित रूप से यहां पर ले आ जाएगी और तब शायद धरती से इंसान का नामो निशान मिट सकता है

End of Earth

जमीन के नीचे नहीं है पानी 

इन दिनों जमीन के नीचे भी लगातार भूमि का जल स्तर गिरता जा रहा है. जमीन के नीचे पानी नहीं बचा है और यही कारण है कि अब पानी के प्राकृतिक स्रोतों की कमी होती जा रही है, लगातार नदियों का जल सूखता जा रहा है और नदियां छोटी होती जा रही है. धरती पर पीने योग्य पानी की कमी होती जा रही है.

वैज्ञानिकों का ऐसा दावा है कि धरती पर अगर इंसान का अंत इस बार होगा तो उसका मुख्य कारण पानी रहने वाला है. पानी के चलते इस बार धरती खत्म होने वाली है.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in