ऑपरेशन कश्मीर साफ़- आज कश्मीर से आई बड़ी अपडेट, सेना ने मारे इतने आतंकी की आतंकवादियों की हुई अब हालत खराब

Indian Army kashmir

Indian Army kashmir– रमजान के पवित्र महीने में जब भारतीय सेना ने सीजफायर की खबर दी थी तो आतंकवादियों को ऐसा लगा था कि जैसे उनकी मौज आ गई है. इसी कारण से सेना के जवानों के ऊपर भी लगातार हमले हुए और सेना गाड़ियों पर ताबड़तोड़ पथराव किए गए.

कश्मीरी लोगों को यह समझना चाहिए था कि वह जो कर रहे हैं इसका खामियाजा उन को भुगतना ही होगा. लगातार कश्मीर के नेता और कांग्रेस के बहुत बड़े बड़े नेता यह बयान दे रहे हैं कि कश्मीरी लोगों के साथ सही नहीं हो रहा है.

लेकिन आपको बता दें कि अगर समय रहते इन्हीं कांग्रेस के बड़े नेताओं ने कश्मीरी युवकों को पत्थर ना उठाने की शिक्षा दी होती तो आज शायद कश्मीर आतंकवाद के हाथ में फंसा हुआ नहीं होता. जब कश्मीरी युवक सेना पर पत्थर बरसाते हैं तो यही नेता चुपचाप अपने कमरे में बैठकर मजे ले रहे होते हैं और जैसे ही सेना कोई कार्यवाही करती है तो उनकी छाती पर सांप लोटने लगता है.

Indian Army kashmir

इसी का नतीजा है कि आज कश्मीर इतनी गंभीर समस्या में फंसा हुआ है. आइये हम आपको बताते हैं कि ऑपरेशन कश्मीर के अंतर्गत आज की सबसे बड़ी खबर क्या है और कश्मीर में सेना ने एनकाउंटर के अंदर कितने आतंकवादियों को मार गिराया है-

Indian Army kashmir

शुक्रवार की सुबह अनंतनाग में सेना और आतंकवादियों के बीच एक जोरदार मुठभेड़ हुई है. भारतीय सेना पिछले काफी समय से अनंतनाग में कुछ आतंकवादियों के ठिकानों पर नजर रखी हुई थी और इस तरीके की खबरें मिली है कि सुरक्षाबलों ने चार आतंकवादियों को ढेर कर दिया है.

Indian Army kashmir

सुरक्षा बलों को देर रात ही आतंकवादियों के अनंतनाग में एक घर के अंदर कुछ आतंकवादी छुपे होने की खबर मिली थी. जिसके बाद उनको घेर लिया गया था. जम्मू कश्मीर के डीजीपी एसपी वैद्य ने बताया है कि सुबह यह मुठभेड़ शुरू हुई थी और इस मुठभेड़ में सेना को एक बहुत बड़ी कामयाबी मिली है.

सेना ने चार आतंकवादियों को मार गिराया है. वहीं कश्मीर घाटी के 3 जिलों में आज मोबाइल इंटरनेट सेवा पर रोक लगा दी गई है ताकि मोबाइल सेवा इंटरनेट के द्वारा संपर्क करके पत्थरबाजों को उकसाया ना जा सके.

Indian Army kashmir

इन आतंकवादियों के पास से एके-47 राइफल और दूसरे कई बड़े फैसले और बारूद बरामद किए गए हैं. निश्चित रूप से इस कार्यवाही को सेना एक बहुत बड़ी कार्यवाही मानकर चल रही है.

वहीँ दुःख की खबर यह है कि इस आतंकवादी कार्यवाही में सेना का एक जवान भी शहीद हो गया है और साथ ही साथ एक नागरिक के जख्मी होने की खबरें भी मिल रही हैं.

आतंकवादियों के मारे जाने से कश्मीर में आतंकवादियों का मनोबल निश्चित रूप से टूटने वाला है. कश्मीर को आतंकवादियों से बचाना है तो निश्चित रूप से जल्द से जल्द ठोस कदम उठाए जाने चाहिए और सेना उसी तरीके और उसी रास्ते पर आगे बढ़ती हुई नजर आ रही है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*