Connect with us

रहस्य

रहस्य से उठा पर्दा, दोस्तों पढ़िए कि धरती पर जन्म लेने वाला पहला मानव कौन था और उसका जन्म कैसे हुआ था

first man on earth manu

धरती पर जन्म लेने वाला पहला मानव कौन था– ऐसे सवाल अक्सर हमारे मन में आते हैं और जवाब चाह कर भी नहीं मिल पाता। लेकिन इस बात को नहीं नकारा जा सकता की आखिर वह मानव कौन था? जो सबसे पहले धरती पर आया और जिसके आने से धरती मनुष्य का घर बनी।

इस सवाल का जवाब हमने ढूंढ निकाला कई मान्यता को पढ़ते हुए  हमने जाना की कैसे मानव की रचना हुई। आइए जानते हैं पूरी कहानी-

धरती पर जन्म लेने वाला पहला मानव कौन था

हम सभी जानते हैं कि भगवान ब्रह्मा सृष्टि के रचयिता है। वही है इस कुल के राजा। जिन्होंने मानव की उत्पत्ति की। कई धार्मिक किताबों और पौराणिक कथा के अनुसार भगवान ब्रह्मा के शरीर से एक उनकी जैसी हूबहू शक्ति उत्पन्न हुई। जिसे देखकर ब्रह्माजी समझ नहीं पाए कि यह कौन है और इस तरह से अचानक उनके सामने कैसे प्रकट हुई। लेकिन यहीं प्रकृति का इशारा था। जो ब्रह्मा जी ने समझ लिया और यही शक्ति मानव संसार का पहला मानव बना।

first-man-on-earth-adam

धरती पर मानव की उत्पत्ति कैसे हुई?


ब्रह्मा जी ने उनके जैसी दिखने वाली काया का नाम स्वयंभुव मनु रखा। जो धरती पर पहला मानव कहलाया। भगवान ब्रह्मा ने 11 प्रजातियों और 11 रूद्र को उत्पन्न किया। तब अंत में उन्होंने स्वयं की शक्ति को दो भागों में बांट दिया। पहला भाग मनु के रूप में और दूसरा भाग शतरूपा के रूप में निकल कर सामने आया।  भगवान ब्रह्मा ने प्रजातियों को प्रकाश से, रूद्र को अग्नि से और अपने दोनों भागों को मिट्टी से बनाया। इसलिए मानव को मिट्टी की काया का कहा जाता है।

first-man-on-earth-adam

मनु से बन गया मानव


हमने आपको बताया कि सबसे पहले धरती पर मनु आए और फिर स्त्री रूप में शतरूपा। दोनों ने संसार की रचना की इसलिए संपूर्ण जाति का नाम मानव पड़ गया। जिसे कई भाषाओं में ‘म’ के नाम से ही  जाना गया जैसे संस्कृत में मनुष्य और अंग्रेजी में मैन।

सिद्ध हुआ कि मनु ही है पहले मानव

यदि हम बात करें कि क्या हर जाति, हर धर्म इस बात को मानता है कि सबसे पहले मनु इस धरती पर आए। यह बात बहुत हद तक सही और सत्य है कि मनु ही इस धरती का पहला मानव थे। लेकिन यदि हम दूसरे धर्मों की बात करें तो ‘ऐडम’ की जन्म की कहानी सामने आती है। जैसे परछाई से मनु ने जन्म लिया वैसे ही बाइबल में कहा गया कि ईश्वर की परछाई से ही एक जीव ने भी जन्म लिया। जिसे ऐडम नाम दे दिया गया।

इन दोनों कथाओं की तुलना की जाए तो ब्रह्मा जी का स्वरूप मनु को ही पहला मानव माना जाता है।

स्वायंभुव मनु और शतरूपा ने ब्रह्मा जी का आशीर्वाद और दिव्या शक्ति पाकर सृष्टि की रचना की और पहले मानव होने का शौभाग्य प्राप्त किया। इस प्रकार हमने जाना की मनु से मानव बना और इस बात से आपको रूबरू कराया।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in रहस्य