Connect with us

मोदी ने आज फिर सरेआम उतार दी कांग्रेस की पूरी इज्जत, लगाये हैं इतने गंभीर आरोप की पढ़कर आप खुद हो जाओगे हैरान

लोकसभा में प्रधानमंत्री का भाषण

लोकसभा में प्रधानमंत्री का भाषण- संसद का सत्र जब से शुरु हुआ हैं कांग्रेस और भाजपा दोनों देशहित में कोई कारने की जगह सिर्फ एक दूसरे पर छीटाकसी कर रहे हैं. एक दूसरे पर आरोंपों की झड़ी लगाने के अलावा इनके पास कोई और दूसरा काम नहीं है.

देशहित के मुद्दे मुठाने के बजाय दोनों का पूरा टार्गेट 2019 में होने वाला लोकसभा चुनाव हैं. वो इस सत्र के माध्यम से अपने वोट साधने का प्रयास कर रहे हैं. इस सत्र के पहले ही भाषण में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस को सरेआम कड़वी बातें सुना दी. हम आपको वो पांच बातें बता रहे हैं जिसे सुनने के बाद कांग्रेसी बौखला जाएंगे. लोकसभा में प्रधानमंत्री का भाषण

लोकसभा में प्रधानमंत्री का भाषण

देश के टुकड़े करने का लगाया आरोप- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए कहा कि यह कांग्रेस के चरित्र में हैं. देश का विभाजन आपने ही किया. उस समय जो जहर बोया गया उस पाप की सजा आजादी के 70 साल बाद भी हर दिन भारतवासी भुगत रहा हैं.

लोकसभा में प्रधानमंत्री का भाषण

खुश करने में लगे हुए हैं कांग्रेसी- कांग्रेसी नेताओं पर आरोप लगते हुए कहा कि वो देश हित में काम करने की जगह अपने ही पार्टी के बड़े नेताओं को खुश करने में लगे हुए थे. उन्होंने काग्रेस नेता मल्लिका अर्जुन खड़गे का उदाहरण देते हुए कहा कि वो उनके भाषण को सुनकर तो ऐसा ही लगा.

लोकसभा में प्रधानमंत्री का भाषण

काग्रेस के कारण भारत बहुत पिछड़ गया- मोदी ने आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस को इस बात की जिम्मेदारी लेनी चाहिए कि उनके कारण ही आज हम पिछड़े हुए हैं. भारत के आजादी के बाद जो देश आजाद हुए आज वो हमसे भी आगे निकल चुके हैं.

लोकसभा में प्रधानमंत्री का भाषण

लोकतंत्र का पाठ पढ़ने की हैं जरुरत- प्रधानमंत्री ने कांग्रेस पर एक से बढ़कर एक गंभीर आरोप लगाए. मोदी ने कहा कि जब कांग्रेस का नेतृत्व संभालने के लिए कांग्रेस कमेटी गठित हुई तब 15 सदस्यों की कमेटी में 12 कांग्रेस की बागदौड़ सरदार बल्लभभाई पटेल को देने के पक्ष में थे लेकिन तीन सदस्यों ने नोटा का प्रयोग कर उन्हें यह जिम्मेदारी नहीं दी और एक परिवार की पार्टी बनाया.

लोकसभा में प्रधानमंत्री का भाषण

जमीन को जानते तक नहीं है- कांग्रेस नेता तो जमीन से जुड़े ही नहीं है. अगर वो जमीन से जुड़े होते तो शायद आज कांग्रेस इस हालत में नहीं होती.

ये वो पांच कड़वी बात हैं जिसे सुनने के बाद हर कांग्रेस को अपने अंदर झांकवे के लिए मजबूर कर देगा. क्या यह आरोप कांग्रेस पर प्रधानमंत्री मोदी ने सही लगाये हैं, आप कमेन्ट करके जरुर बताओ.

1 Comment

1 Comment

  1. balraj khaleri

    February 9, 2018 at 1:02 pm

    Right Jai. Hind namo

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in