गुजरात चुनाव परिणामों से ‘RSS’ संघ को आया गुस्सा, अमित शाह समेत इन 2 नेताओं का छीनने वाले है पद

गुजरात विधानसभा चुनाव 2017 

गुजरात में बीजेपी का साल 2017 विधानसभा चुनाव में जिस तरह का प्रदर्शन रहा है उसे देखकर तो यही बोला जा सकता है कि साहब जिस जीत को जीत समझ रहे हैं असल में वह एक तरह से बीजेपी और मोदी की राज्य में बड़ी हार है. गुजरात में बेशक बीजेपी ने 99 सीट लेकर सत्ता में वापसी की ही लेकिन यह जीत बीजेपी की राज्य में सबसे छोटी जीत है.

गुजरात की जीत के बाद सूत्रों से बात करने पर खबर मिली है कि संघ और संघ के उच्च नेतृत्व बीजेपी और मोदी टीम से काफी नाराज है. अमित शाह जहाँ बीजेपी को 150 से ज्यादा सीट मिलने का दावा कर रहे थे तो अभी तस्वीर साफ़ हो गयी है कि बीजेपी 99 सीट के आसपास सिमटी हुई अब नजर आ रही है. ऐसे में खबर है कि संघ जल्द बीजेपी के कुछ बड़े नेताओं पर गुजरात नतीजों के लिए कार्यवाही करने वाला है. आइये एक अनुमान आपको बताते हैं कि किन नेताओं के ऊपर यह कार्यवाही हो सकती है- गुजरात विधानसभा चुनाव 2017 

गुजरात विधानसभा चुनाव 2017 

अमित शाह है सबसे पहला नाम 

आपको बता दें कि बीजेपी के वर्तमान अध्यक्ष और राज्यसभा सांसद अमित शाह अब सबसे पहले कार्यवाही की खबर आ सकती है. शाह का आंकलन जिस तरह से गलत हुआ है और बीजेपी 150 अनुमान से 99 आई है तो यह शाह के लिए बिलकुल नहीं है. वैसे भी अमित शाह के साथ कई अन्य बातें भी हैं जिसके कारण संघ अब इनसे अध्यक्ष पद ले सकता है.

गुजरात विधानसभा चुनाव 2017 

विजय रूपाणी से भी है संघ नाराज 

वहीँ सूत्रों से बात करने पर यह भी खबर आई है कि विजय रूपाणी से भी संघ नाराज है. मुख्यमंत्री होने के बाद भी कई मौके ऐसे चुनाव में आये जब विजय रूपाणी भी अपनी सीट से संघर्ष करते हुए दिखे थे. वैसे जनता ने कहीं ना कहीं जिस तरह से बीजेपी के खिलाफ वोट दिया है तो साफ़ है कि जनता को विजय रूपाणी का चेहरा पसंद नहीं आया है.

गुजरात विधानसभा चुनाव 2017 

नितिन भाई पटेल 

वहीँ सूत्रों ने तीसरा नाम नितिन भाई पटेल का बताया है जिनके ऊपर कार्यवाही हो सकती है. संघ को समझ आ गया है कि गुजरात में बीजेपी की ताकत पाटीदार अब उनसे नाराज हैं इसलिए नए पाटीदार नेताओं को प्रमोट करने का मन संघ ने बनाया है.

 

तो गुजरात विधानसभा चुनाव के नतीजों के आने के बाद अब साफ़ है कि संघ बीजेपी की गुजरात में तस्वीर बदलने वाला है ताकि 2019 के चुनाव में गुजरात से कोई भी बुरी खबर बिलकुल ना आये.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*