5 कारण यूपी के बाद इसलिए अब गुजरात में खिलने वाला है सिर्फ और सिर्फ कमल- भक्तों के लिए आई बड़ी अच्छी खबर

गुजरात चुनाव 2017गुजरात चुनाव 2017

गुजरात चुनाव 2017- गुजरात चुनाव को लेकर इस बार बीजेपी ने पहले से अधिक मेहनत की है. राज्य में बीजेपी के बड़े से बड़ा नेता चुनावी प्रचार करता हुआ नजर आ रहा है. ऐसे में बीजेपी के लिए अब इस बार गुजरात चुनाव नाक की लड़ाई बन चुका है.

प्रधानमंत्री मोदी भी सब कुछ छोड़कर अब गुजरात में डेरा डाल चुके हैं. वहीँ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी मोर्चे पर निकले हुए हैं. ऐसे में अब गुजरात के हालातों पर नजर डालें तो बीजेपी के स्थिति अचानक से बेहतर नजर आ रही है. तो आइये आपको बताते हैं कि आखिर वह कौन-से 5 कारण है कि अब गुजरात में बीजेपी की सरकार बनती हुई नजर आ रही है- गुजरात चुनाव 2017

गुजरात चुनाव 2017

उत्तर प्रदेश के निकाय चुनावों का असर 

अभी तक गुजरात में कांग्रेस बीजेपी को टक्कर देती तो नजर आ रही थी किन्तु अब अचानक से ही उत्तर प्रदेश चुनाव के निकाय नतीजों के बाद गेंद बीजेपी के पाले में आती हुई नजर आ रही है. जिस तरह से बीजेपी ने उत्तर प्रदेश में बम्पर जीत हासिल की है उसके बाद तो गुजरात के चुनाव भी बीजेपी के पक्ष में जाते हुए नजर आ रहे हैं.

गुजरात चुनाव 2017

पाटीदार लोगों का भरोसा टूट गया हार्दिक पटेल से 

वहीं अभी तक कांग्रेस जिस हार्दिक फेक्टर को अपनी जीत मानकर चल रही थी तो उसके बाद अब जिस तरह से एक के बाद के हार्दिक ने कुछ काम किये हैं वह कहीं ना कहीं अब बीजेपी के पक्ष में जाने वाले हैं. हार्दिक की सीडी और उसके बाद गुपचुप राहुल गाँधी से हुई मुलाकातों ने मामला अब उल्ट के रख दिया है.

गुजरात चुनाव 2017

राहुल गाँधी का हिन्दू होने का मामला

राहुल गाँधी ने गुजरात चुनाव में जो सबसे बड़ी गलती कर दी है वहीँ कहीं ना कहीं सोमनाथ मंदिर में जाकर गैर हिन्दू डायरी में अपना नाम दर्ज करना था. बेशक राहुल ने ऐसा नहीं किया या यह फर्जी फोटो बोला जा रहा है लेकिन गुजरती लोगों के दिलों में अब एक कुछ लोचा चलने लगा है.

गुजरात चुनाव 2017

मोदी प्रेम है बड़ी वजह 

गुजराती लोगों को मोदी से एक बड़ा मोह है. बेशक मोदी अभी दिल्ली में हैं लेकिन गुजराती लोगों के लिए आज भी यही गर्व की बात है कि एक गुजराती दिल्ली में है और अगर वह हारता है तो इससे मोदी की इमेज को नुकसान होगा.

गुजरात चुनाव 2017

मोदी के भाषणों में अब है गाँधी परिवार 

वहीँ आपको बता दें कि जिस तरह से मोदी लगातार अपने भाषणों में गाँधी परिवार का नाम ले रहे हैं और गाँधी लोगों को बार-बार सामने ला रहे हैं उसके बाद जनता का कहीं ना कहीं मन कांग्रेस की तरफ से फीका होता जा रहा है.

तो इन 5 कारणों ने अब गुजरात चुनाव का समीकरण गड़बड़ा दिया है. कहीं ना कहीं जो लोग कांग्रेस की तरफ जाते हुए नजर आ रहे थे तो अब वहीँ उत्तर प्रदेश के नतीजों के बाद निश्चित रूप से गुजरात चुनाव बीजेपी के पक्ष में जाता हुआ नजर आ रहा है.

 

यह भी जरुर पढ़ें- नरेन्द्र मोदी के बारें में ऐसी 5 बातें, जिनको जानकर आप कभी मोदी को पसंद नहीं करेंगे

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*