भारत देश में पड़ा धन का अकाल और नरेन्द्र मोदी ब्रिटेन में चाव से खा रहे हैं पूरी-सब्जी और पोहा के साथ देशी दूध की खीर

Prime Minister Modi in England

Prime Minister Modi in England- भारत देश में एक तरफ जहां इस समय बैंकों के एटीएम मशीनों से धन गायब हो रखा है. धन की कमी की वजह से  देश के कुछ नहीं तो 5 राज्यों में हाहाकार मचा हुआ है.

सरकार को ऐसा लगता है कि यह तो एक जरा सी बात है शायद यही वजह है कि धन की कमी को लेकर मच रहे हाहाकार पर अभी भी कोई ठोस कार्रवाई नहीं की गई है. Prime Minister Modi in England


Prime Minister Modi in England

सरकार ऐसा बोल रही है कि जल्द ही स्थिति सामान्य हो जाएगी. लेकिन आम आदमी निश्चित रूप से इस समय परेशान होता हुआ नजर आ रहा है. एक तरफ जहां देश में धन की कमी बनी हुई है तो वहीं दूसरी तरफ भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्वीडन, यूके और जर्मनी के दौरे पर निकले हुए हैं. मंगलवार की रात को स्वीडन की राजधानी स्टॉकहोम में पीएम मोदी ने भारतीय समुदाय को संबोधित किया था.

भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी

इस तरह की की खबरें मीडिया से आ रही हैं कि भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ब्रिटिश पीएम आवास में पूरी सब्जी और पोहे का नाश्ता करते हुए देखे गए हैं. निश्चित रूप से मोदी का स्वागत काफी शानदार तरीके से ब्रिटिश पीएम हाउस में किया गया.

Prime Minister Modi in England

अच्छी बात है कि भारत के प्रधानमंत्री को इतनी इज्जत ब्रिटिश पीएम हाउस में मिल रही है और वहां पर शानदार रूप से मोदी को गले लगाया जा रहा है. इसमें कुछ भी गलत नहीं है कि प्रधानमंत्री मोदी अगर सुबह के नाश्ते में पूरी सब्जी और पोहा खा रहे हैं तो यह अच्छी बात है.

Prime Minister Modi in England

लेकिन इस देश में इस समय अचानक से ही कैश की समस्या बनी हुई है और देश का धन खत्म होता हुआ नजर आ रहा है. क्या ऐसे समय में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भारत देश से बाहर जाना चाहिए था? सवाल यह उठता है कि जहां एक तरफ देश में रोजगार और गरीबी जैसी आवाज़ लगाता नरेंद्र मोदी के खत्म हो रहे कार्यकाल के बावजूद बने हुए हैं तो वहीं नरेंद्र मोदी लगातार विदेशों के दौरे क्यों कर रहे हैं?

इन सवालों के जवाब शायद मोदी को जल्द से जदल देने ही होंगे कि विदेशी दौरों से भारत को क्या मिल रहा है. देश के युवाओं के काम खत्म हो रहे हैं और मोदी लगातार पूरी सब्जी खा रहे हैं.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*