राहुल गाँधी अब नहीं बनेंगे भारत के प्रधानमंत्री, टूटकर बिखर चुका है राहुल गाँधी का प्रधानमंत्री बनने का सपना

राहुल गाँधी नहीं बनेंगे भारत के प्रधानमंत्री

राहुल गाँधी नहीं बनेंगे भारत के प्रधानमंत्री- लोकसभा चुनाव 2019 में होने हैं और देश की सभी पार्टियां इस समय उनकी तैयारियों में लगी हुई हैं. इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव भी कहीं ना कहीं लोकसभा चुनाव के लिए सेमीफाइनल होते हुए नजर आने वाले हैं.

राहुल गाँधी नहीं बनेंगे भारत के प्रधानमंत्री

मध्यप्रदेश और राजस्थान के अंदर जो चुनाव होने हैं वह सभी बड़ी पार्टियों के लिए महत्वपूर्ण हैं लेकिन वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस की तरफ से राहुल गांधी को प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित करना उसी के लिए हानिकारक साबित हो सकता है.

राहुल गाँधी नहीं बनेंगे भारत के प्रधानमंत्री

कांग्रेस जानती है कि जिन पार्टियों का साथ लेकर वह चुनाव लड़ने वाली है शायद वह राहुल गांधी के नाम पर एकजुट होते हुए नजर ना आ पाए. यही कारण है कि अब कांग्रेस, राहुल गांधी को अपना प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित करती हुई नजर नहीं आएगी. आइए आपको बताते हैं कि अगर राहुल गांधी कांग्रेस और यूपीए के प्रधानमंत्री पद के दावेदार घोषित होते हैं तो इसका क्या नुकसान कांग्रेस को उठाना पड़ सकता है-

राहुल गाँधी नहीं बनेंगे भारत के प्रधानमंत्री

एकजुट नहीं होंगे कई सारे दल

कांग्रेस अच्छी तरीके से जानती है कि अगर छोटे छोटे दलों को अपने साथ करना है और कई सारी पार्टियों को एक साथ लेकर लोकसभा के चुनाव लड़ना है तो राहुल गांधी को प्रधानमंत्री पद का दावेदार घोषित करके यह संभव नहीं हो पाएगा.

राहुल गाँधी नहीं बनेंगे भारत के प्रधानमंत्री

कहीं ना कहीं अगर प्रधानमंत्री राहुल गांधी होंगे या फिर कांग्रेस का प्रधानमंत्री होगा तो समाजवादी, बहुजन समाजवादी पार्टी और तृणमूल कांग्रेस जैसी पार्टी कांग्रेस से किनारा करती हुई नजर आ सकती हैं और तब देश में एक तीसरा दल बनता हुआ नजर आएगा और अगर तीसरा दल भारत में बनता है तो इसका फायदा कहीं ना कहीं भारतीय जनता पार्टी को होगा. यही कारण है कि शायद राहुल गांधी को कांग्रेस पार्टी प्रधानमंत्री पद का दावेदार घोषित ना कर पाए.

वहीँ दूसरी तरफ अगर कांग्रेस पार्टी 2019 के लोकसभा चुनाव में अपने साथी दलों में सबसे ज्यादा सीट जीतती हुई नजर आएगी तभी वह साथी दलों से राहुल गाँधी के नाम पर सौदा करती हुई नजर आएगी अन्यथा राहुल गाँधी का प्रधानमंत्री बनने का सपना मात्र एक सपना बनकर ही रह जायेगा.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*