Connect with us

हिन्दूओं देख लो राम रथ यात्रा की इन 10 तस्वीरों को जिसके बाद ही हिन्दूओं ने किया बाबरी मस्जिद के साथ इतना गिरा हुआ काम

राम रथ यात्रा की 10 खास तस्वीरें

हिन्दू भारत को अपना देश मानते आये हैं. चलिए एक बार को मान लेते हैं हिन्दुस्तान मात्र हिन्दुओं का देश है लेकिन अगर इस बात को हिन्दू साबित करने में लग जायेंगे तो उससे कहीं ना कहीं हिन्दू धर्म ही छोटा और बेकार होने लगता है. हिन्दुओं ने सदा से दूसरों को अपने घर में जगह दी है.

ऐसे में राम मंदिर को लेकर अचानक से इतना आक्रामक होना हिन्दुओं को बिलकुल में शोभा नहीं देता है. राम मंदिर के नाम पर 6 दिसम्बर 1992 को जो किया वह वाकई बहुत गिरा हुआ काम था. क्या राम आज वहां रहेंगे जहाँ कोई और कभी अपनी इबादत किया करते थे. लेकिन सच यही है कि अगर भगवान राम 1992 में धरती पर होते तो वह भी हिन्दुओं को ऐसा नहीं करने देते. आपको आज हम राम रथ यात्रा की 10 तस्वीरें दिखाते हैं जिसके बाद ही देश में हिन्दू इतना आक्रामक हो गया था- राम रथ यात्रा की 10 खास तस्वीरें

राम रथ यात्रा की 10 खास तस्वीरें

ये वो नक्शा है जो राम रथ यात्रा के लिए बनाया गया था. यकीन मानिये यह वह पहला मौका था आज़ादी के बाद जब हिन्दुओं को साजिश के साथ इकट्ठा किया जा रहा था.

राम रथ यात्रा की 10 खास तस्वीरें

आडवाणी इस रथ यात्रा की अगुवाई कर रहे थे. जो बीजेपी अभी देश में कहीं भी नजर नहीं आती थी उसके लिए चुनाव में जगह बनाने का यह पहला मौका था.

राम रथ यात्रा की 10 खास तस्वीरें

राम रथ यात्रा जहाँ-जहाँ जा रही थी वहां-वहां हिन्दुओं को बस ऐसा ही लग रहा था कि यह जो लोग जमा हो रहे हैं यह अयोध्या में मंदिर ही बनवाकर आयेंगे.

राम रथ यात्रा की 10 खास तस्वीरें

किसी को भी यह नजर नहीं आ रहा था कि देखो भाई यह रथ यात्रा राम के लिए नहीं एक खास पार्टी की सत्ता में वापसी के लिए है.

राम रथ यात्रा की 10 खास तस्वीरें

रथ यात्रा 1990 में हुआ था. इस यात्रा के बाद कई राज्यों में विधानसभा चुनाव हुए और बीजेपी जीत दर्ज करने लगी थी और राष्ट्रीय पार्टी बनती जा रही थी.

राम रथ यात्रा की 10 खास तस्वीरें

लेकिन इस यात्रा ने ही सच में हिन्दुओं को इतना कट्टर बना दिया था कि वह कई बार तो 1992 में ऐसा लगा था कि वह आतंकियों के तरह क्यों व्यवहार कर रहा है.

राम रथ यात्रा की 10 खास तस्वीरें

वाकई इस बात के कई सबूत दिए जा सकते हैं कि 1992 में अयोध्या के अंदर जो भी कुछ हुआ था, उसकी कहानी तो 1990 में ही लिख दी गयी थी.

राम रथ यात्रा की 10 खास तस्वीरें

जिस तरह के नारे रथ यात्रा के बाद नजर आये उसमें सरेआम नफरत नजर आने लगी थी.

राम रथ यात्रा की 10 खास तस्वीरें

हिन्दूओं का एक खास समाज का निर्माण हो रहा था जो नफरत की राह पर चलने लगा था.

राम रथ यात्रा की 10 खास तस्वीरें

अब ऐसे में राम रथ यात्रा की इन 10 तस्वीरों को देखकर क्या आप भी यही बोलेंगे कि इस 1990 की यात्रा ने ही हिन्दुओं को इतना कट्टर बना दिया थी 6 दिसंबर 1992 को अयोध्या में हिन्दुओं ने इतना गिरा हुआ काम करके भगवान राम को भी शर्मिंदा किया था. आपके कमेन्ट का हमको इन्तजार रहने वाला है.

 

यह भी जरुर पढ़ें-  जरुर पढ़ो अद्भुत-चमत्कारी-प्रेरणादायक कहानी जिसे बचपन में पढ़कर, सलमान खान आज बने हैं बोलीवुड के नम्बर वन स्टार

4 Comments

4 Comments

  1. jai sriram

    December 7, 2017 at 6:08 am

    Are mader choad tu katbulla hai tere make uper chadne aya kya adwani jai shriram

  2. Vikas

    December 8, 2017 at 8:32 am

    Ye baat hi Galt hai har baat kuch bhi ho Hindu Ko nicha dikhya jata hai
    Vahi Muslim log Islam ke Naam par kitano Ko marthe atankvadi bante hai fir bhi in logo. Ko kaha jata hai ki atankvadi ka koi Dharm nahi Hoti
    Bus Hindu hi dikhta hai

  3. Abhi

    December 8, 2017 at 1:19 pm

    Isme galat kya h…kuch bhi bolo to ink dhram p hamla h..to ham bhi mandir wahi bnayenge jha unka janm hua tha…tu sale mulle ki najayaj aulaad h…bhul mat tera bap ka dada bhi ek din hindu hi yhi…sale mugal ki najayaj aulaad ho tum

  4. Vinmanu

    December 9, 2017 at 11:28 am

    It’s not in Ayodhya Only But Mughals have destroyed many Hindu Temple . And if Hindus have destroyed Babri Masjid it is their inner Jawala mukhi which had bursted out in this form . Prithvi Raj Chauhan had defeated so many times around 16 time’s and left which was his biggest mistake he should have killed them in first war only. But we Hindus are not cruel like Muslims take out history we have forgiven them many times but it was Hindus biggest mistake.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in