Connect with us

टेक्नोलॉजी

रूस ने बना ली तीसरे विश्वयुद्ध के लिए जहरीली रसायनक ऐसी गैस जो आधे घंटे में ही पूरी दुनिया को तबाह कर देगी

russia-is-ready-for-third-world-warrussia-is-ready-for-third-world-war

तीसरा विश्व युद्ध अगर इस बार होगा तो वह निश्चित रूप से दुनिया को तबाह करता हुआ नज़र आएगा। पहले और दूसरे विश्व युद्ध के समय इतने खतरनाक हथियार नहीं बनाए थे कि वह दुनिया को काफी बड़े और व्यापक तरीके से खत्म कर दें लेकिन इस समय दुनिया के कई सारे देश ऐसे हैं जो पूरी तरीके से परमाणु शक्ति अपने पास रखते हैं और अब तो हाइड्रोजन बम जैसी शक्तियां भी कुछ देशों के पास हैं.

दुनिया का सबसे खतरनाक देश अगर इस समय कोई है तो वह अमेरिका नहीं बल्कि रूस बोला जाएगा। रूस लगातार युद्ध के लिए ऐसे ऐसे हथियार बना रहा है जो बेहद खतरनाक हैं. यह हथियार निश्चित रूप से दुनिया को ही खत्म कर देंगे। वहीं इस तरीके की खबरें भी सामने आ रही है कि रूस ने ऐसी जहरीली गैस भी खोज कर ली है जो चुटकियों में ही मात्र आधे घंटे के अंदर दुनिया को तबाह कर सकती है. आइए आपको इस गैस की सारी जानकारी देते हैं-

russia-is-ready-for-third-world-war

मस्टर्ड गैस का नाम शायद आपने इससे पहले भी कई बार सुना होगा। मस्टर्ड गैस लगातार दुनिया के कई देशों के पास इकट्ठी की जा रही है. यह इतनी खतरनाक है कि वह इंसान को तुरंत मार सकती है. बस इस गैस का इस्तेमाल अगर तीसरे विश्वयुद्ध में हुआ तो इससे बुरा कुछ नहीं होगा। आइए आपको बताते हैं कि यह मस्टर्ड गैस किस तरीके से काम करती है-

पीले रंग की होती है यह खतरनाक गैस

russia-is-ready-for-third-world-war

मस्टर्ड गैस को बड़े-बड़े ड्रम में भरकर इसका इस्तेमाल किया जा सकता है. बड़े-बड़े ड्रम जैसी चीजों में भरकर इसको ऐसे देशों के ऊपर फेंका जा सकता है जो कि दुश्मन हैं.

मस्टर्ड गैस का असर इतना खतरनाक होता है कि सांस के अंदर जाने पर यह फेफड़ों पर प्रभाव बनाने लगती है. अगर इस गैस को आप देखें तो यह पीले रंग की होती है और यह पीले रंग का फॉग जैसा दिखने वाला एक रसायन इतना खतरनाक है कि जैसे ही यह आपके अंदर जाएगा तो यह आपके साँस लेने से ही फेफड़ों के आसपास पानी भरने लगेगा।

russia-is-ready-for-third-world-war

यह गैस फेफड़ों में पानी भरने लगती है और इसकी वजह से इंसान तुरंत ही मारा जाता है. तीसरे विश्व युद्ध में अगर मस्टर्ड गैस का इस्तेमाल हुआ तो निश्चित रूप से दुनिया के कई देश देखते देखते ही खत्म जायेंगे। मस्टर्ड गैस रूस के पास काफी संख्या में इकट्ठी हो गयी है.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in टेक्नोलॉजी