Connect with us

रहस्य

जानिए मकड़ी खुद अपने जाल में क्यों नहीं चिपकती है?

spider-web-dvi-news

जानिए मकड़ी खुद अपने जाल में क्यों नहीं चिपकती है?- धरती पर न जाने कितने जीव ऐसे हैं, जो अपनी क्रिया देकर मनुष्य को भी में फंसा देते हैं। दरअसल कुछ जीव तो ऐसे होते हैं जो ना केवल मनुष्य के लिए बल्कि और दूसरे जीवो को भी अपने जाल में फंसा लेते हैं। अब यदि जाल की बात आ गई है तो क्यों जाल से जुड़े ही जीव के बारे में बात करें… जी हां, जाल बनाने वाला यदि कोई जीव तो वह है मकड़ी…. जो ऐसा जाल बनाती है। जिसमें वह हर छोटे-बड़े कीड़ों को फंसा सकती है।

मकड़ी कहीं पर भी अपना जाल जरूर बना लेती है लेकिन क्या आप जानते हैं कि मकड़ी अपने जाल पर कभी नहीं फिसलती और ना ही कभी इसमें फंस पाती है। जाल में फंसाने में यह इंसानों को भी नहीं छोड़ती। आपने कई बार देखा होगा, यदि आप मकड़ी के पास से निकल जाए तो आपके चेहरे पर उसका जाला चिपक जाता है। जो इतना चिकना होता है कि बार-बार छुड़ाने पर भी नहीं छुट पाता। मकड़ी के जाले बनाने का कारण और उसमें खुद ना फंसने का कारण हम आपको बताएंगे। साथ ही आप जान सकेंगे कि मकड़ी कितनी ज्यादा ताकतवर होती हैं।

spider-web-dvi-news


मकड़ी जाल क्यों बनाती है | मकड़ी का जाला कैसे बनता है


संसार में हर कोई जीव अपने भोजन का  बंदोबस्त खुद करता है। इसी तरह मकड़ी को भी अपने खाना इकट्ठा करने के लिए जाल बनाना पड़ता है… जिससे कि उसके जाल में कीड़े-मकोड़े फंस जाते है और मकड़ी को उसका शिकार मिल जाता है। यह अपना जाल इतनी होशियारी से बनती है कि उसमें अन्य छोटे-छोटे जीव आसानी से फंस जाते हैं और उन्हें निकलने का रास्ता भी नहीं  मिल पाता। इस तरह से वह अपने खाने के लिए जाल बनाती है और उसमें अपने शिकार को फंसा लेती है… अभी आप सोचा रहे होंगे कि मकड़ी किसकी सहायता से जाले बनाती है तो हम आपको बता दें कि मकड़ी के शरीर में द्रव्य पदार्थ होता है। जो बिल्कुल रेशमी धागे की तरह होता है। इसें स्पाइडर सिल्क का नाम दिया गया। यह पदार्थ इतना चिपचिपा होता है कि हवा के संपर्क में आने से जाल में परिवर्तित होने लगता है और मकड़ी के खाने का इंतजाम कर देता है।

मकड़ी खुद अपने जाल में क्यों नहीं चिपकती है?

मकड़ी का जाल किसी को भी कंफ्यूज कर देगा, इसमें घुसा कैसे जाए और निकला कैसे जाए लेकिन वहीं मकड़ी इसमें आसानी से आ जा सकती हैं। इसका कारण है, मकड़ी के पैर। दरअसल मकड़ी के पैर तैलीय होते हैं, जिस कारण वह जाल में नहीं चिपकती। साथ ही मकड़ी अपना जाल बनाते समय इसमें जगह जरूर छोड़ती है जिससे वह बाहर निकल सके…

मकड़ी के बारे में जानकारी


1. मकड़ी की शक्ति तो यही है कि वह अपने जाल में किसी को भी फंसा सकती है। कई बार इंसान भी इससे डर जाते है।

2. आपको जानकर आश्चर्य होगा मकड़ी के 48 घुटने होते हैं। क्योंकि इसके 8 पैर होते हैं और हर एक पैर में 6 जोड़ होते हैं।

3. यह बात आपको दंग कर देगी कि मकड़ी एक साल में लगभग 2000  कीड़े खाती है। जो केवल इसे अपने जाल की बदौलत मिल पाते हैं।

4. मकड़ी के पास ऐसी ग्रंथियां होती हैं, जिससे वह  रेशम बनाती हैं।

5.हम आपको बता दें कि पानी पर चलने की ताकत रखती हैं ना केवल पानी पर चलना उसके अंदर सांस भी ले सकती हैं।

6. वैसे मकड़ी उड़ नहीं सकती लेकिन अपनी सबसे बड़ी ताकत जाल के कारण कई मीटर तक की घूमती सकती है।

7. दुनिया की सबसे बड़ी मकड़ी बहुत खतरनाक होती है जिसका नाम है Goliath birdeater… जो चूहे और छिपकली तक को खा सकते हैं इस मकड़ी का साइज काफी बड़ा होता है और इसकी टांगे 12 इंच लंबी होती हैं।

8. मकड़ी की ताकत का अंदाजा इसके जाल से ही लगाया जा सकता है। जो इसी के शरीर के पदार्थ से बना होता है। यह थी हर छोटी से बड़ी जानकारी जो हम आपको दे चुके हैं। इन सभी बातों को देखते हुए कहा जा सकता है कि मकड़ी बहुत ही चालाक होती है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in रहस्य