Shangchul Mahadev Temple- प्रेमियों को मिलाने वाला मंदिर
Connect with us
https://www.dvinews.com/wp-content/uploads/2019/04/vote.jpg

सनातन धर्म

भारत का ऐसा मंदिर जहां भागे हुए प्रेमियों की रक्षा करते हैं भोलेनाथ

Published

on

mahadev-mandir

वक्त चाहे कितना ही आगे क्यों ना गया हो लेकिन आज भी समाज में कई सारी चीजें हैं जिनको दुत्कारा जाता है. उनमें से एक है प्यार. 21वी सदी के होने के बावजूद आज भी समाज में कई सारे लोग हैं जो प्यार को जुर्म समझते हैं. उन्हें लगता है कि प्यार एक ऐसा गुनाह है जो हमारे इज्जत के साथ खिलवाड़ करता है. इसलिए आज भी कई सारी जगह है जहां लोग प्यार के मामले को जानते ही प्रेमियों को मार देते हैं. जबकि सच्चाई तो यह है कि उनका कोई हक नहीं बनता इस तरह के कदम उठाने का क्योंकि सुप्रीम कोर्ट ने भी इजाजत दे दी है. अगर लड़का और लड़की दोनों बालिक है तो वह अपनी मर्जी से शादी कर सकते हैं. इसके बावजूद कई सारे केसेस है जहां या तो लड़के को मार दिया जाता है या फिर दोनों प्रेमियों को. लेकिन वो कहते हैं ना भगवान हर किसी के साथ होते हैं. शायद इसलिए इस मंदिर में भगवान भोलेनाथ प्रेमियों की रक्षा करते हैं.

shiva-image

shiva-image

कहा जाता है कि अक्षर भागे हुए प्रेमी इस मंदिर में आकर अपना जान बचाते हैं. यह कोई काल्पनिक बात नहीं है क्योंकि हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में स्थित शांघड़ गांव में मौजूद शंगचूल शिव का मंदिर ( Shangchul Mahadev Temple) किसी घर से कम नहीं है. इस मंदिर में प्रेमी जोड़े सुरक्षित महसूस करते हैं. कहा जाता है कि यहां कोई भी पुलिस या किसी के भी घर वाले अंदर नहीं आ सकते. इसके साथ ही जब तक उन का मसला हल नहीं हो जाता तब तक वहां के पंडित दोनों की खूब खातिरदारी करते हैं. इस मंदिर में ऊंची स्वर में बात करना अनिवार्य है. साथ ही चमड़े का पर्स या बेल्ट अंदर नहीं ले जा सकते.

 

सबका मानना है कि यहां पर सिर्फ भगवान शिव का ही हुक्म चलता है. इतिहास के पन्नों में भी इस मंदिर का जिक्र हुआ है. बोला जाता है कि महाभारत काल में अज्ञातवास के दौरान में पांडवों ने यहां पर कुछ समय बिताया था. उनका पीछा करते वहां कौरव भी पहुंच गए. फिर भोलेनाथ ने कहा कि मेरे शरण में जो भी आता है उसका कोई बाल भी बांका नहीं कर सकता. यह सुनकर कौरव वापस लौट गए. तब से या मंदिर सब के लिए बहुत महत्वपूर्ण बन गया. इसलिए जब भी समाज से निकाले जाने वाले लोग या फिर अपने बचाव के लिए जो भी लोग यहां आते हैं भोलेनाथ उनकी हमेशा रक्षा करते हैं.

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *