नरेंद्र मोदी की रैली में मंच के नीचे कुछ ऐसा हुआ कि अधिकारियों के हाथ-पाँव फूल गए
Connect with us
https://www.dvinews.com/wp-content/uploads/2019/04/vote.jpg

इंडिया

नरेंद्र मोदी की रैली में मंच के नीचे कुछ ऐसा हुआ कि अधिकारियों के हाथ-पाँव फूल गए, सेना और स्पेशल कमांडों ने तुरंत घेर लिया चारों तरफ से मंच

Published

on

modi-rally-fire

अलीगढ़ के अंदर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकसभा चुनाव 2019 के लिए रैली चल रही थी, इस मंच पर प्रधानमंत्री मोदी के अलावा यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी शामिल थे. रविवार को यह रैली हो रही थी लेकिन अचानक की रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंच के नीचे कुछ ऐसा हुआ जिसको देखकर सेना और स्पेशल कमांडो के हाथ पांव फूल गए. अच्छी बात यह रही कि कोई भी बड़ी घटना इस रैली में नहीं हो पाई और मंच के ऊपर जो भी बीजेपी के बड़े नेता उपस्थित थे वह सभी सुरक्षित नजर आए हैं.

आइए आपको बताते हैं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली में मंच के नीचे ऐसा क्या नजर आया कि जिसको देखकर अधिकारियों के हाथ पांव फूल गए थे-

modi-rally-fire

दरअसल रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की विजय संकल्प रैली हो रही थी. इस रैली में मंच के नीचे अचानक आग लग गई. आग तारों के अंदर लगी जहां से बाद में धुआ निकलता हुआ नजर आया. शॉर्टसर्किट की वजह से आग लगी थी लेकिन गनीमत यह रही कि इस घटना में कोई भी हताहत नहीं हुआ. जैसे ही मंच के नीचे आग की लपटें व धुआ निकलता तो उसके बाद सुरक्षाकर्मी और एसपी जी के कमांडो तुरंत ही मंच के नीचे घुस कर आग को बुझाते हुए नजर आए हैं.

एसपीजी कमांडो ने तुरंत ही तार को काटकर आग को बुझा दिया जैसे ही मंच के नीचे दूंगा निकलता हुआ दिखा तो तुरंत ही एसपीजी के जवान एक्टिव हो गए और बेहतर मंच के नीचे जाते हुए नजर आए. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी दिख रहा था कि अब मंच के नीचे कुछ ना कुछ घटना हुई है.

एसपीजी कमांडो और स्थानीय पुलिस ने तुरंत मंच के नीचे जाकर उन तारों को काट दिया जहां से धुंआ निकल रहा था और आग लग रही थी. अलीगढ़ के नुमाइश मैदान में रविवार को भाजपा की विजय संकल्प रैली के अंदर यह सब हुआ. योगी आदित्यनाथ भाषण दे रहे थे तुरंत ही तारों में स्पार्किंग हुई और उठने लगी इस पूरी घटना में नजर आई है उसके बाद बिजली अधिकारियों को सस्पेंड कर दिया गया है.

देखा जा रहा है कि जिस समय मंच बन रहा था उसमें दिन तारों का इस्तेमाल किया जा रहा था क्या उन तारों पहले चेक किया गया था और इनकी चैटिंग के समय क्लीयरेंस किस अधिकारी ने दी थी? मंच को बनाने वाले अधिकारियों और विद्युत अधिकारियों में बड़े अधिकारियों को तुरंत निलंबित कर दिया गया है और इस घटना की जांच की जा रही है.

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *